कठुआ रेप केस : पुलिसवाले की मंगेतर बोली, ‘मैं दीपक की आंखों में देखकर पूछूंगी, क्या उसने rape किया है?’

loading...

जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में 8 साल की मासूम से दुष्कर्म के आरोपी पुलिसकर्मी दीपक खजुरिया की मंगेतर रेणू शर्मा का कहना है कि वो एक बार deepak से मिलकर उनकी आंखों में देखकर ये पूछना चाहती हैं कि क्या उसने ये अपराध किया है? रेणू शर्मा, दीपक की मंगेतर है दोनों की सगाई पिछले साल 7 दिसंबर को हुई थी और 26 april को दोनों की शादी होने वाली थी।

रेणू, deepak को अपना हमसफर चुनने से पहले उससे एक बार मिलना चाहती है। रेणू का कहना है कि मैं एक बार जिला जेल जाना चाहती हूं। मैं उसकी आंखों में आंखें डालकर ये पूछूंगी की क्या सच में उसने मासूम के साथ दुष्कर्म किया है। मैं जानती हूं वो मुझसे झूठ नहीं बोलेगा। अगर उसने माना किया कि उसने ये अपराध नहीं किया तो मैं उसके वापस आने तक उसका इंतजार करूंगी लेकिन अगर उसने मान लिया कि उसने रेप किया है तो अपने मां-बाप से किसी दूसरे लड़के को ढूंढने के लिए कहूंगी।

इसे भी पढ़िए :  नीरव मोदी की कंपनी से आभूषण खरीदने वाले 50 अमीरों के ITR की दोबारा जांच करेगा Income tax department

लेकिन दीपक की मां दर्शना देवी का कहना है कि रेणू को jail लेकर जाना ठीक नहीं है मैं खुद अब तक jail में जाकर उससे नहीं मिली। रेणू खुद भी पिछले कई दिनों से jail जाने से इनकार कर रही थी। रेणू का कहना है कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा कि दीपक ऐसा घिनौना काम कर सकता है उनकी कभी-कभी दीपक से phone पर बात होती थी। लेकिन कभी ऐसा नहीं लगा कि वो किसी के rape कर सकता है।

इसे भी पढ़िए :  भारतीय मूल के 8 वर्षीय ईर शर्मा ‘British Indian of the Year’ नामित

मैं उससे सगाई के दौरान ही मिली थी मैंने उसे दूर से देखा था, लेकिन हमारी कभी-कभी phone पर बात हो जाती थी। वो बिल्कुल ऐसा नहीं है, वो एक अच्छा पुलिसवाला है। रेणू ने कहा कि ना तो मैं उसे अभी दोषी मान रही हूं ना ही ये कह रही कि उसने ये अपराध नहीं किया। cbi इस मामले की जांच कर रही है, सच बहुत जल्द सबके सामने आ जाएगा। बता दें कि दीपक खजुरिया ने हीरानगर पुलिस स्टेशन से चार साल पहले ही बतौर Special police officer पुलिस की नौकरी शुरू की थी। दीपक, मासूम के साथ दुष्कर्म करने का आरोपी है और उसे गिरफ्तार करने के साथ-साथ Police department से बर्खास्त कर दिया गया है।

इसे भी पढ़िए :  गुजरात में कांग्रेस को और एक झटका, पूर्व CM शंकर सिंह वाघेला के बेटे बीजेपी में शामिल

बता दें कि मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी इस ममले की सुनवाई के लिए जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिख कर ‘Fast track court गठित करने का अनुरोध किया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस मामले में मुख्य न्यायाधीश से Fast track court गठित करने का अनुरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × one =