पाक एक्ट्रेस के यौन उत्पीड़न के आरोपों को अली जफर ने नकारा, कहा- ‘कानून का लूंगा सहारा…’

loading...

कराची। अदाकारा और गायिका मीशा शफी द्वारा अली ज़फर पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाने के एक दिन बाद पाकिस्तान के मनोरंजन उद्योग की कई और महिलाओं ने आगे आकर अभिनेता पर विभिन्न मौकों पर बदसलूकी करने का इल्जाम लगाया है। टि्वटर पर किए गए लंबे – चौड़े पोस्ट में मीशा ने कहा था कि उनके साथ ज़फर ने एक से ज्यादा बार ‘शारीरिक किस्म’ का यौन उत्पीड़न किया। यह सामने आने के कुछ देर बाद, पाकिस्तान की पत्रकार महम जावेद ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि ‘कई साल पहले’ ज़फर ने उनकी एक रिश्तेदार को ‘किस’ करने की कोशिश की थी। उन्होंने लिखा, ‘‘मीशा शफी की ओर से अपना तर्जुबा साझा करने की बहादुरी ने मुझे भी कई साल पहले की अली ज़फर की एक कहानी याद दिला दी जब अली ज़फर ने मेरी रिश्तेदार को किस करने और उन्हें एक कमरे में खींचने की कोशिश की थी। किस्मत अच्छी थी कि मेरी रिश्तेदार के दोस्त वहां थे जिन्होंने अली ज़फर को धक्का दिया। ’’।महम ने कहा कि उन्होंने घटना की रिपोर्ट इसलिए नहीं की क्योंकि कोई भी उनकी बात पर यकीन नहीं करता।

उन्होंने कहा, ‘‘हमनें अपने दोस्तों के अलावा किसी को कहने या रिपोर्ट करने के बारे में सोचा तक नहीं था, क्योंकि वह सेलिब्रिटी हैं और कोई भी शायद न ध्यान देता या न सुनता। वक्त बीतने के साथ हम अपनी कहानी भूल गए। हमारी कहानी याद दिलाने के लिए मीशा शफी का शुक्रिया।’’ महम ने आरोप लगाया कि यह घटना 2004-2005 के बीच याच क्लब में एक बोट पार्टी की है। ।मेक – अप कलाकार लीना गनी ने भी सोशल मीडिया पर अपनी कहानी साझा की। उन्होंने कहा कि ज़फर के साथ सेल्फी लेने के दौरान उन्होंने महसूस किया कि ज़फर उन्हें अनुचित तरीके से छू रहा है। ।लीना ने लिखा , ‘‘ मैं अली (ज़फर) को कई सालों से जानती हूं। दोस्तों के बीच जो उचित व्यवहार होता है उसने कई मौकों पर उसकी सीमा को लांघा है। मैंने उसके परिवार की इज्जत की खातिर इसे नजरअंदाज किया, लेकिन मुझे आज महसूस हुआ कि हाल में हुए खुलासे के मद्देनजर मुझे सच बोलना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘साफ तौर पर पता चलता है कि उसे महिलाओं की इज्जत करना नहीं आता। हंसी मजाक और अभद्रता के बीच बहुत महीन सी रेखा है …. ऐसे मामलों में मेरी जैसी अधिकतर महिलाएं ऐसी स्थितियों से भागती हैं और खुदा से उम्मीद करती हैं कि उससे फिर आमना – सामना नहीं हो। उम्मीद करती हैं कि उसकी घटिया नजरें और हाथ आपको फिर से नहीं छू पाएं।’’ लीना ने कहा कि ज़फर यह समझता है कि वह अश्लील चीज़ें बोलकर बच सकता है। इससे उन्हें कोफ्त होती है।

पाकिस्तानी अभिनेत्री माहिरा खान ने सोशल मीडिया पर उत्पीड़न के खिलाफ बोलने वाली महिलाओं का समर्थन किया। उन्होंने कहा, ‘‘यौन उत्पीड़न जैसे गंभीर मामले पर लापरवाही से टिप्पणी करना बीमार मानसिकता को दिखाता है। इससे पता चलता है कि इस समस्या की जड़ कहां है- वह हमारे दिमाग में है। जब तक हमारे मन में इस मुद्दे के प्रति संवेदनहीनता बनी रहेगी तब तक उत्पीड़न करने वाले पैदा होते रहेंगे। बॉलीवुड में जाना – माना चेहरा अभिनेता-गायक ज़फर ने ‘‘उत्पीड़न के सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया है’’ और कहा कि वह ‘‘इससे अदालती तरीके से निपटने की सोच रहे हैं।’’ ज़फर ने आरोपों से इनकार करते हुए ट्वीट किया है, ‘‘मैं शफी द्वारा लगाये गए यौन उत्पीड़न के सभी आरोपों से पूरी तरह इनकार करता हूं, उन्हें खारिज करता हूं। मैं इसे अदालती रास्ते से सुलझाउंगा। मैं यहां और आरोप लगाने की बजाए इसे पेशेवर तरीके से और बेहद गंभीरता के साथ निपटाउंगा। मैं सोशल मीडिया पर रंजिश नहीं निकालना चाहता क्योंकि इससे # मी-टू आंदोलन, मेरा परिवार, इंडस्ट्री और मेरे प्रशंसक सभी को धक्का पहुंचेगा।’’ ज़फर ने लिखा है, ‘‘मैं जानता हूं कि सचाई की हमेशा जीत होती है।’’

इसे भी पढ़िए :  केजरीवाल को पीएम मोदी ने दी जन्मदिन की बधाई, सीएम ने कहा- थैंक्यू सर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × four =