वेंकटेश प्रसाद ने जूनियर चयन समिति के अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

91
loading...

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद ने Junior Selection Committee के चैयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया. BCCI के कार्यवाहक अध्यक्ष CK खन्ना ने यह जानकारी दी. प्रसाद का यह इस्तीफा Team द्वारा अंडर-19 World Cup जीतने के 1 माह से भी कम समय के भीतर आया है. प्रसाद 2.5 से इस पद पर थे. पिछले कुछ समय से वेंकटेश और BCCI के अधिकारियों में मनमुटाव चल रहा था. माना जाता है कि प्रसाद ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए अपना इस्तीफा दिया है. उन्होंने अपने इस्तीफे में कहा है कि वह ‘Conflict of interest’ में नहीं आना चाहते.

इसे भी पढ़िए :  राफेल मामले में कांग्रेस को 'एक्सपोज' करेगी बीजेपी, आज 70 जगहों पर होगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

BCCI के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मुंबई से बताया, “यह अभी तक स्पष्ट नहीं है लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि वह IPL फेंचाइजी को ज्वॉइन करने वाले हैं. यही वजह है कि वह संभावित ‘Conflict of interest’ को टालना चाहते हैं. जब BCCI के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना से इस बारे में प्रतिक्रिया ली गई तो उनका कहना था, “मैंने उसे काफी समझाने की कोशिश की लेकिन ऐसा लगता है कि वह फैसला कर चुका था. उनमें प्रतिभा की पहचान करने की शानदार काबिलियत है. World champion बनने वाली Junior Team के चयन में उनका योगदान सराहनीय रहा है.”

इसे भी पढ़िए :  Xiaomi : बहुत जल्द आ रहा है Redmi 7, जानें Specification और अन्य खूबियां

2016 में, उन्हें Senior selection committee का Chairman बनाया जाना था लेकिन BCCI ने उन्हें जूनियर पैनल पर अपनी सेवाएं देने को कहा था. दिलचस्प बात यह है कि प्रसाद ने 6 राष्ट्रीय चयनकर्ताओं (3 सीनियर और 3 जूनियर) में सबसे ज्यादा International मैच खेले है. प्रसाद ने 33 Test और 161 एक दिवसीय खेले है जो बाकी चयनकर्ताओं के कुल मैचों से भी अधिक है.

हाल ही में, भारतीय जूनियर टीम ने अंडर-19 world Cup जीता थी लेकिन चयन समिति को BCCI की ओर से कोई ईनाम नहीं दिया गया जबकि Senior चयन समिति को BCCI ने चैंपियन ट्रॉफी हारने के बावजूद भी मोटी रकम दी थी. कई लोगों का मानना है कि प्रसाद का वरिष्ठ पदाधिकारी से इसी मुद्दे पर विवाद हो गया था जिसकी वजह से जूनियर चयन समित को कोई Reward नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़िए :  31 दिसंबर से पहले कार खरीदने पर मिलेगी 1 लाख तक छूट, उसके बाद 40 हजार रुपये महंगी होगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + 5 =