दूरसंचार क्षेत्रों में लाखों रोजगार होंगे

loading...

नई दिल्ली।   दूरसंचार क्षेत्र की कौशल विकास इकाई ने संभावना जताई है कि अगले पांच वर्षो के दौरान इस क्षेत्र में एक करोड़ से अधिक रोजगार पैदा होंगे। फिलहाल यह उद्योग एकीकरण और सुदृढ़ीकरण के चलते रोजगार में कटौती से जूझ रहा है।दूरसंचार क्षेत्र कौशल परिषद (TSSC) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एसपी कोचर ने बताया कि अभी इस क्षेत्र में 40 lakh लोगों को रोजगार मिला हुआ है और अगले पांच साल के बाद दूरसंचार एवं दूरसंचार विनिर्माण क्षेत्र में रोजगार पाने वालों की संख्या बढ़कर 1.43 crore हो जाएगी। CIEL एचआर की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले वर्ष तक दूरसंचार क्षेत्र में करीब 40 हजार लोगों की नौकरी जा चुकी है। यह चलन अगले 6 से 9 महीने तक जारी रहने का अनुमान है जिससे इस क्षेत्र में करीब 80-90 हजार नौकरियां जा सकती हैं। National skill development corporation के तहत आने वाले TSSC के सीईओ कोचर ने कहा, रोजगार की मुख्य मांग मशीन- मशीन संवाद जैसे उभरते क्षेत्रों से आएगी। फिर दूरसंचार विनिर्माण एवं आधारभूत संरचना और सेवा क्षेत्र की कंपनियों से नए अवसर मिलेंगे। उन्होंने कहा कि हम भारत में विनिर्माण संयंत्रों में वृद्धि देख रहे हैं। इससे विनिर्माण उद्योग में लाखों रोजगार मिलेगा।

इसे भी पढ़िए :  'मैं बेसब्र हूं, बेचैन हूं, व्‍याकुल हूं, अधीर हूं क्‍योंकि...', PM के भाषण की 15 अहम बातें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × two =