दिल्ली में गाड़ी चलाना होगा महंगा, सड़कों पर ‘कन्जेशन’ TAX लगाने की तैयारी!

76
loading...

देश की राजधानी delhi जल्द ही पहला ऐसा राज्य बन सकता है, जहां भीड़भाड़ वाली सड़कों से गुजरने के लिए tax चुकाना होगा। उप-राज्यपाल अनिल बैजल के साथ तीन नगर निगम और केंद्रीय शहरी विकास मंत्रलय ने 21 ऐसे भीड़भाड़ वाले स्थानों की पहचान कर ली है, जहां पर ‘Conjication tax लागू करने की तैयारी है। delhi में ट्रैफिक और प्रदूषण की समस्या को कम करने के लिए यह कदम उठाने की तैयारी है। हालांकि इसे लागू करने के लिए अभी तक कोई समय-सीमा निर्धारित नहीं की गई है।

इसे भी पढ़िए :  LIVE: रायबरेली पहुंचे PM मोदी, रेल कोच फैक्ट्री का कर रहे हैं दौरा

अखबार से बातचीत में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने बताया कि वह इस फैसले का समर्थन करते हैं और इस प्रकार के फैसले ना सिर्फ दिल्ली में बल्कि देशभर में लागू होने चाहिए. उपराज्यपाल ने इस नियम को लागू करने से पहले कई तरह के निर्दश जारी किए हैं. एलजी ने दिल्ली की Transport system limited को अध्ययन करने को कहा गया है.

जिन जगहों का नाम इस list में आ सकता है उनमें Aurobindo Chowk, Andheri Road, ITO, Mathura Road, Mehrauli, Kashmiri Gate जैसी कई भीड़भाड़ वाली सड़कें शामिल हैं. आपको बता दें कि लंदन में इस प्रकार का नियम पहले से ही लागू है, यहां कुछ सड़कों पर नियमित समय पर कार लाने पर कुछ राशि चुकानी पड़ती है.

इसे भी पढ़िए :  20 तारीख तक निपटा लें बैंकिंग कार्य

गौरतलब है कि दिल्ली में प्रदूषण की समस्या काफी बड़ी होती जा रही है. प्रदूषण को रोकने के लिए कई तरह के प्रयास भी किए जा चुके हैं. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कई बार राज्य में ऑड-ईवन भी लागू किया था. वहीं प्रदूषण को लेकर Supreme Court-High Court-NGT हर कोई सरकारों को लताड़ लगा चुका है.

इसे भी पढ़िए :  Jio vs Airtel: Airtel ने 199 के प्लान में किया बदलाव, अब मिलेगा ज्यादा डेटा

‘कन्जेशन’ टैक्स के इस आइडिये पर पहले भी विचार किया जा चुका है, हालांकि हर बार कमजोर पब्लिक ट्रांसपोर्ट की वजह से ये टलता रहा है. दिल्ली में करीब 5000 बसें हैं, जबकि जरूरत के हिसाब से ये संख्या 10 हजार के आसपास होनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − three =