इंवेस्टर्स समिट में हर जिले से 50-50 उद्योगपति जाएंगे

loading...

लखनऊ. यूपी इन्वेस्टर्स समिट में बाहरी उद्योगपतियों के साथ-साथ राज्य के उद्यमियों को भी खासी तवज्जो दी जाएगी। औद्योगिक विकास आयुक्त अनूप चंद्र पांडेय ने कहा है कि हर जिले से कम से कम 50 -50 उद्योगपतियों को इन्वेस्टर्स समिट में आने के लिए प्रेरित किया जाए। उन्हें समिट के दौरान अपने जिलों में निवेश को प्रोत्साहित किया जाए। अनूप चंद्र पांडेय ने डीएम के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में कहा कि उद्योग बन्धु की बैठक बुलाकर उद्योगपतियों की समस्याओं का समाधान कराया जाए। निवेशकों के निवेश प्रस्ताव और एमओयू 25 जनवरी तक उपलब्ध कराएं। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रदेश के उद्योगपति हमारे ब्रांड एम्बेस्डर है, अतरू उनकी समस्यायें प्राथमिकता के आधार पर हल की जाए।पाण्डेय ने कहा कि प्रत्येक हर से कम से कम 50 उद्योगपतियों को समिट में भाग लेने के लिए प्रेरित किया जाए और उनकी सूची 25 जनवरी तक उपलब्ध करा दी जाए। जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक उद्योगपतियों से संपर्क कर उनका पंजीकरण कराएं। साथ ही विभिन्न क्षेत्रों के निवेशकों द्वारा किए जाने वाले निवेश के एमओयू निर्धारित प्रारूप पर ईमेल के माध्यम से भेजे जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि 21-22 फरवरी को होने वाली यूपी इन्वेस्टर्स समिट का जिलों में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए और प्रमुख स्थानों पर होर्डिंग्स लगवाई जाए। समिट में लगाई जाने वाली प्र्दशनी में भाग लेने वाले इच्छुक निवेशकों को स्टाल लगाने के लिए सुविधा उपलब्ध कराई जाए। अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त ने यह कहा कि सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जिलों में लैंड बैंक के लिए भूमि का चयन कर उनके विवरण उपलब्ध करा दें, जिससे इच्छुक निवेशकों को जरूरत के मुताबिक जमीन उपलब्ध कराई जा सके। श्री पांडेय ने एक जनपद एक उत्पाद के तहत की जा रही कार्यवाही की भी समीक्षा की गयी।

इसे भी पढ़िए :  चीन को टक्कर देगा Railway का यह प्लान, 83 हजार करोड़ होंगे खर्च

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × two =