शहीद उधम सिंह के पोते ने कर्ज के चलते की आत्महत्या

101
loading...

फरीदकोट 10 जनवरी। पंजाब में नौ महीने इंतजार के बाद शुरू हुई कर्ज माफी स्कीम की सूची में अपना नाम न पाकर शहीद उधम सिंह के पोते किसान गुरदेव सिंह ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार फरीदकोट जिले के चाहल गांव के किसान पर बीस लाख रूपये का कर्ज था।

इसे भी पढ़िए :  छत्तीसगढ़ के नए CM के नाम का ऐलान आज, भूपेश बघेल रेस में सबसे आगे

माली हालत अच्छी न होने के कारण उन्हें सरकार से उम्मीद थी कि कर्ज माफी की सूची में उनका भी नाम शामिल होगा लेकिन नाम न पाकर निराशा की स्थिति में उन्होंने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़िए :  मानव तस्करी की शिकार लड़कियां बनीं कोलकाता डिजाइनर की ‘शो स्टॉपर’

ज्ञातव्य है कि राज्य के पांच जिलों में शुरू हुई इस योजना के तहत पांच जिलों के 47 किसानों को दो लाख तक का कर्ज माफी योजना का लाभ मिला है। दूसरी तरफ अभी इस स्कीम में पायी गयी खामियों के चलते इसका विरोध जारी है। अकाली दल तथा आम आदमी पार्टी ने तो इसे बड़ा मुद्दा बना लिया है। किसान संगठन भी इसका विरोध कर रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  जीवन भर कांग्रेस ओर समाज के लिए समर्पित रहे, नगरपालिका के पूर्व चेयरमेन श्री चंद्र किशोर बिश्नोई का अंतिम संस्कार सम्पन्न, पुष्पचक्र चढ़ाकर तथा कांग्रेस का ध्वज उढ़ाकर विधायक सहित सैकड़ों ने दी विदाई और श्रद्धाजंलि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 + twelve =