Himachal Election Results 2017-पहला नतीजा कुल्लू से, BJP के हिस्से गई जीत, कांग्रेस को भरोसा बनेगी सरकार

147
loading...

शिमला : हिमाचल प्रदेश की 68 विधानसभा सीटों के लिए मतगणना के नतीजे सुबह साढ़ेे दस बजे साफ हो गए. सुबह 10.45 बजे तक बीजेपी ने 42 सीटें हासिल कर लीं, जबकि कांग्रेस 23 सीटों के साथ पीछे रही. 3 सीटें अन्‍य ने हासिल की.

पहाड़ी राज्‍य में शुरुआती रुझानों से ही मुकाबला कड़ा देखा गया. पहले यहां बीजेपी ने अचानक बढ़त बनाते हुए कांग्रेस को पीछे छोड़ दिया था, लेकिन देर होते-होते मुकाबला कड़ा हो गया था, लेकिन बाद में बीजेपी ने रुझानों में फिर बढ़त हासिल कर ली.

राज्‍य में बड़ेे चेहरों को देखा जाए तो सुजानपुर सीट से भाजपा के सीएम पद के उम्‍मीदवार और प्रदेश के दो बार मुख्‍यमंत्री रहे प्रेम कुमार धूमल पीछे, जबकि कांग्रेस के राजेंद्र राणा आगे चल रहे हैं. अर्की सीट से वीरभद्र सिंह आगे चल रहे हैं. उधर, शिमला ग्रामीण सीट से कांग्रेस की तरफ से मैदान में खड़े वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्‍य सिंह आगे चल रहे हैं.

कांग्रेस के प्रदश अध्‍यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्‍खू नादौन से आगे चल रहे हैं. वहीं, शिमला से बीजेपी के सुभाष भारद्वाज आगे हैं. अगर नादौन सीट की बात करें तो यहां से बीजेपी के विजय अग्निहोत्री पीछे, मंडी सीट से बीजेपी के ही अनिल शर्मा आगे हैं.

समयवार रुझान इस प्रकार रहे…

सुबह 8.15 बजे : बीजेपी- 4, कांग्रेस- 3
सुबह 8.30 बजे : बीजेपी- 7, कांग्रेस- 4
सुबह 8.40 बजे : बीजेपी- 9, कांग्रेस- 4
सुबह 8.54 बजे : बीजेपी- 33, कांग्रेस- 10, अन्‍य- 1
सुबह 9.12 बजे : बीजेपी- 26, कांग्रेस- 21, अन्‍य- 1
सुबह 9.26 बजे : बीजेपी- 29, कांग्रेस- 21, अन्‍य- 1
सुबह 9.34 बजे : बीजेपी- 33, कांग्रेस- 21, अन्‍य- 1
सुबह 9.39 बजे : बीजेपी- 33, कांग्रेस- 19, अन्‍य- 3
सुबह 9.44 बजे : बीजेपी- 36, कांग्रेस- 21, अन्‍य- 3
सुबह 9.49 बजे : बीजेपी- 40, कांग्रेस- 22, अन्‍य- 4
सुबह 10.20 बजे : बीजेपी- 39, कांग्रेस- 23, अन्‍य- 5
सुबह 10.27 बजे : बीजेपी- 40, कांग्रेस- 22, अन्‍य- 5
सुबह 10.34 बजे : बीजेपी- 41, कांग्रेस- 22, अन्‍य- 5

इसे भी पढ़िए :  आतंकियों की मदद करने वाले पाकिस्तान को एक डॉलर भी नहीं मिलना चाहिए: निक्की हेली

10:45 बजे: गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा पूर्ण बहुमत के साथ गुजरात और हिमाचल में बीजेपी सरकार बनाने जा रही है।
10:40 बजे: बीजेपी 41 सीटों पर और कांग्रेस 24 सीटों पर आगे चल रही है।

11:15 बजे: कुल्लू के आनी से आया पहला नतीजा, बीजेपी उम्मीदवार जीते।

11:20 बजे: कसुम्प्टी सीट पर कांग्रेस का कब्जा। कांग्रेस उम्मीदवार अनिरुद्ध सिंह ने बीजेपी के विजय ज्योति को 9,397 वोटों से हराया।
11:40 बजे: रूझानों के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं में जश्न का माहौल, पार्टी कार्यालय पर जश्न का माहौल।

12:30 बजे: भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी राजिन्दर राणा से पीछे चल रहे हैं।
12:20 बजे:हिमाचल प्रदेश की शिमला सीट से भाजपा के सुरेश भारद्वाज ने निर्दलीय प्रत्यशी हरीश जनार्था को 1903 मतों के अंतर से हराया ।
12:00 बजे: हिमाचल में सभी 68 सीटों के रूझान आए। ताजा रूझानों में बीजेपी को 43, कांग्रेस को 21, अन्य को 3 तो एक सीट कम्युनिस्ट पार्टी को मिलने की संभावना।

इसे भी पढ़िए :  CM शिवराज ने दिया इस्तीफा, बोले- सरकार बनाने का नहीं करूंगा दावा पेश

12:50 बजे: बीजेपी को 10 सीटों पर मिली जीत तो पार्टी 34 सीटों पर आगे चल रही है।

1:15 बजे: बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा राज्य में कांग्रेस की हार की वजह राज्य में कुशासन का होना है।

कांग्रेस और विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), दोनों ने इस पहाड़ी राज्य में अपनी सरकार बनने को लेकर भरोसा जताया था. जहां एक्जिट पोल (मत सर्वेक्षण) में भाजपा के बहुमत से सत्ता में आने के संकेत दिए गए थे, वहीं राजनीतिक पर्यवेक्षकों ने कहा था कि कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर है, क्योंकि चुनाव के समय ‘किसी भी पार्टी के पक्ष में स्पष्ट लहर नहीं दिखी. दिलचस्प बात यह है कि यह राज्य वर्ष 1985 से वैकिल्पक रूप से कभी कांग्रेस तो कभी भारतीय जनता पार्टी को चुनता आया है. वर्ष 2012 में कांग्रेस ने 36 सीटें जीतीं थीं, जबकि भाजपा को 26 सीटों से संतोष करना पड़ा, वहीं छह सीटें निर्दलीय नेताओं के हाथ लगी थीं.

साल 2012 के चुनाव में हार का सामने करने के बाद भाजपा राज्य में वापसी करने की पुरजोर कोशिश कर रही थी. पार्टी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई रैलियां की थी. वहीं, कांग्रेस को मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में 2012 की जीत दोहराने की उम्मीद थी.

वीरभद्र सिंह ने रविवार को एक्जिट पोल को खारिज करते हुए कहा था, “फिर से मेरी सरकार बनने जा रही है”. उन्होंने शिमला में संवाददाताओं से कहा, “एक्जिट पोल के साथ हेर-फेर होता है, ये वैज्ञानिक तथ्य पर आधारित नहीं होते. चूंकि, मैंने राज्यभर में चुनाव प्रचार किया है, मैं लोगों की नस से वाकिफ हूं और उनके मूड को अच्छी तरह से समझता हूं”.

इसे भी पढ़िए :  महिलाओं व बच्चों के लिए खुलेगा 460 बिस्तरों का नया अस्पताल

वहीं, दूसरी ओर भाजपा के मुख्यमंत्री पद के दावेदार प्रेम कुमार धूमल ने कहा था, “लोगों ने बदलाव के लिए मतदान किया है और हम रिकॉर्ड जीत से सरकार गठित करने जा रहे हैं”. धूमल वर्ष 2012 के चुनाव तक मुख्यमंत्री थे. उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा था. भ्रष्टाचार के खिलाफ अन्ना हजारे के आंदोलन के बाद हुए इस चुनाव में धूमल धूमिल पड़ गए और सत्ता कांग्रेस को हाथ लगी, जबकि अन्ना का आंदोलन कांग्रेस के खिलाफ था. दो बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके धूमल ने कहा था “हमने 50 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. एक्जिट पोल हमारे लिए हैरान करने वाले नहीं हैं”.उल्‍लेखनीय है कि नौ नवंबर को हुए मतदान में 50,25,941 मतदान करने योग्य लोगों में से कुल 37,83,580 लोगों ने मतदान किया था. कुल 75.28 प्रतिशत मतदान हुआ था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + one =