आज भी मौजूद है Ravan का शव, भाई विभीषण ने नहीं किया था शव का अंतिम संस्कार…

loading...

धर्म ग्रंथों के अनुसार इसी दिन भगवान shriram ने ravan का वध किया था. ये बात तो हम सभी जानते हैं लेकिन ravan से जुड़ी कुछ बातें ऐसी भी हैं जो बहुत ही कम लोग जानते हैं. बता दें, कुछ दिन पहले ही श्रीलंका पुरातत्व विभाग ने दावा किया है रावण की लाश आज भी श्रीलंका के रेगला जंगल में इसका प्रमाण पाया गया है. रावणवध के ravan के अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी विभीषण को थी लेकिन सिंहासन संभालने की जल्दी में विभीषण रावण के शव को वहीं छोड़ गए. जिसके बाद नागकुल के लोग ले गए.

इसे भी पढ़िए :  #Metoo: आदमियों पर भरोसा करना... उन्हें तवज्जो देना, नीना गुप्ता की बहुत बड़ी गलती थी

उनको विश्वास था ravan अभी पूरी तरह से नहीं मरा है उसको फिर से जिन्दा किया जा सकता है. लेकिन उनके हर प्रयास असफल रहे और हारकर उन्होंने कई प्रकार के रसायनों का प्रयोग कर रावण के शव को ममी के रूप में रख दिया. कहा जाता है रेगला के घने जंगल में एक विशाल पर्वत है जिसमें एक खतरनाक गुफा स्तिथ है जिसे रावण के गुफा के नाम से जाना जाता है, क्योंकि ravan ने उसी गुफा उसी गुफा बर्षो तपस्या को थी.

इसे भी पढ़िए :  अभिनेत्री रेणुका शहाणे बोलीं, ऐसी कोई महिला नहीं जिसके पास #metoo कहानी न हो

रेगला के उस गुफा में कोई नही जाता क्योंकि रावण के शव की रक्षा कई खूंखार जानवर और नागकुल के नाग करते है. ravan की ताबूत 18 फ़ीट लंबी और 5 फ़ीट चौड़ी है इतने सालों के बाद भी ravan की ताबूत आज भी रेगला के घने जंगल में सुरक्षित है.

इसे भी पढ़िए :  पिता पर आरोपों के बावजूद ‘मी टू’ मुहिम का समर्थन जारी रखूंगी : नंदिता दास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

6 − one =