मोदी कम पढ़े लिखे, आकलन नहीं कर पाएः केजरीवाल

220
loading...

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्री का मुद्दा एक बार फिर उठाते हुए आज कहा कि ‘‘कम पढ़े लिखे’’ होने के कारण ही वह नोटबंदी के विनाशकारी परिणाम का आकलन नहीं कर पाए। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि यह जरूरी है कि प्रधानमंत्री की डिग्री की ‘‘सच्चाई’’ का खुलासा हो क्योंकि यह जनता का ‘‘संवैधानिक अधिकार’’ है।

इसे भी पढ़िए :  छत्तीसगढ़ के नए CM के नाम का ऐलान आज, भूपेश बघेल रेस में सबसे आगे

केजरीवाल ने यहां अपने आवास पर संवाददाताओं को बताया, ‘‘लोगों का मानना है कि क्योंकि मोदीजी कम शिक्षित हैं इसलिए उन्होंने बगैर किसी से चर्चा किए नोटबंदी का फैसला ले लिया है। अब जब इसके कारण लोगों का जीवन दूभर हो गया है तो वह स्थिति से नहीं निपट पा रहे हैं।’’ इससे पहले नोटबंदी के फैसले को वापस लेने की मांग कर चुके आप प्रमुख ने यह भी मांग की कि लोग जो पैसा जमा करा रहे हैं उसका इस्तेमाल किसानों और छोटे कारोबारियों की ऋण माफी के लिए किया जाए।

इसे भी पढ़िए :  मोदी सरकार को बड़ी राहत: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- राफेल डील में कोई संदेह नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 + 18 =