सर्दियों के मौसम में इस तरह रखें बालों का खास ख्याल

33
loading...

खूबसूरती में चार चांद लगाने के लिए सुंदर और घने बालों का होना जरूरी है। लेकिन बालों में उचित पोषण न मिलने के कारण वे समय से पहले ही गिरने लगते हैं।बालों की देखभाल सही तरह से न की जाये तो बाल गिरने शुरू हो जाते हैं। बाल गिरने के कई कारण हो सकते हैं, बाल अनुवांशिक कारणों से भी गिर सकते हैं और किसी प्रकार का संक्रमण भी बालों के गिरने की वजह हो सकता है। हालांकि रोज हमारे कुछ न कुछ बाल जरूर गिर जाते हैं, लेकिन सामान्‍य से ज्‍यादा बाल झड़ना बालों की समस्‍या का लक्षण है।

सर्दियों के दिनों में बालों की देखभाल में थोड़ी मुश्किल होती है। इस समय जरा सी लापरवाही कुछ महिलाओं के लिए घातक भी सकती है।

घने बालों वाली महिलाओं के लिए सर्दियों के मौसम को बुरा समय भी कहा जाता है। इस समय डैंड्रफ, सूखे या छल्‍लेदार बाल, बालों के झड़ने और दो मुंहे बालों की समस्‍या आम है। जानकारों का कहना है कि मौसम में बदलाव का असर त्‍वचा के साथ ही बालों पर भी पड़ता है। इस समय बालों में रूखेपन की शिकायत आम है। इस समय बालों की विशेष देखभाल की जरूरत होती है। इस लेख के जरिए हम आपको बता रहे हैं सर्दियों में आमतौर पर बालों में होने वाली समस्‍या और इनसे बचने के उपाय।

इसे भी पढ़िए :  'पद्मावत': राजपूत महिलाओं ने स्थगित किया सामूहिक 'जौहर', अब राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग

क्यों टूटते हैं सर्दियों में महिलाओं के इतने बाल?
कैसा है आपका स्कार्फ?

सर्दियों में बालों का टूटना केवल इनकी देखभाल से जुड़ा मामला ही नहीं है। यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप ठंड के प्रकोप से बचने के लिए सिर पर क्‍या पहनती हैं। कई बार स्‍कार्फ लपेटने या ऊनी टोपी पहनने से बाल फंसकर टूट जाते हैं। बालों को टूटने से बचाने के लिए रेशमी स्कार्फ पहनें।

हीटर के उपयोग से होता है नुकसान

ठंड से राहत पाने के लिए अक्‍सर लोग हीटर का प्रयोग करते हैं। हीटर का इस्‍तेमाल आपके बालों में रूखापन बढ़ा सकता है। हीटर का उपयोग कम करेंगे तो बेहतर रहेगा। बालों में रूखेपन को कम करने के लिए सप्‍ताह में एक बार एक्स्ट्रा डीप कंडीशनर का प्रयोग करें। साथ ही ऐसा हेयर प्रोडक्‍ट इस्तेमाल करें, जो आपके बालों में नमी के स्तर को बनाए रखें।

इसे भी पढ़िए :  'पद्मावत': राजपूत महिलाओं ने स्थगित किया सामूहिक 'जौहर', अब राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग

कर्लिंग आयरन के प्रयोग से करें परहेज

कुछ महिलाएं बालों को सुखाने या इन्‍हें स्‍टाइलिश बनाने के लिए आयरन, ब्‍लो ड्रायर या कर्लिंग आयरन का प्रयोग करती हैं। कर्लिंग आयरन आदि के प्रयोग से बालों में रूखेपन की समस्‍या बढ़ती है। बालों को सुखाने के लिए इनके इस्‍तेमाल से बचना चाहिए। यह भी ध्‍यान रखें कि स्‍कार्फ पहनने से पहले आपके बाल पूरी तरह से सूख जाने चाहिए।

बालों को टूटने से बचाने के उपाय

– सर्दियों के दिनों में बालों में शैम्‍पू का ज्‍यादा इस्‍तेमाल नहीं करना चाहिए। शैंपू के ज्‍यादा प्रयोग से सिर की त्‍वचा में सूखापन बढ़ जाता है और बाल टूटने लगते हैं।
– बाल उलझे हुए हैं तो इन्‍हें ठीक करने के लिए चौड़े दांतों वाली कंघी का इस्‍तेमाल करें। अब बालों की जड़ों में शहद लगाएं और इन्‍हें 30 मिनट तक तौलिए से लपेट कर रखें। अब इन्‍हें गुनगुने पानी से धो लें। शहद के प्रयोग से आपके बालों में चमक आएगी।
– सर्दियों के दिनों में ऑलिव ऑयल का प्रयोग बालों को स्‍वस्‍थ बनाता है। दो चम्‍मच ऑलिव ऑयल गर्म करके बालों की जड़ों में मसाज करें। इससे बालों की जड़ों में नमी बनी रहेगी और आपके बाल कम टूटेंगे।
– बालों को ज्‍यादा से ज्‍यादा बांधकर रखें। सर्दियों के दौरान यदि आप जूड़ा या टॉप नॉट बनाती हैं तो आपके बाल सर्द हवाओं के प्रभाव से बचे रहेंगे।
– रूसी की परेशानी से बचने के लिए रात में नींबू का रस और नारियल का तेल मिलाकर मालिश करें। इसे पूरी रात लगा रहने दें। सुबह होने पर शिकाकाई शैम्‍पू से अपने सिर को धो लें। रूसी से राहत मिलेगी।
– बालों में मालिश के लिए हमेशा ब्रांडेड तेल इस्‍तेमाल करें। आप जिस तेल का इस्‍तेमाल करती हैं, उसे खरीदने से पहले यह देख लें कि उसमें ऐसे कौन से पोषक तत्‍व हैं जो बालों के लिए फायदेमंद रहेंगे।

इसे भी पढ़िए :  'पद्मावत': राजपूत महिलाओं ने स्थगित किया सामूहिक 'जौहर', अब राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 + thirteen =