छह कमजोर सार्वजनिक बैंकों को मिलेगी 7500 करोड़ की डोज, जानिये उनके नाम

loading...

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय ने पूंजी पर्याप्तता अनुपात को मजबूत करने के लिए बैंकों में पूंजी डालने की योजना के तहत छह कमजोर सार्वजनिक बैंकों में 7,577 करोड़ रपए डालने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। जिन बैंकों को वित्तीय सहयोग दिया जा रहा है, वे सभी रिजर्व बैंक के तत्काल सुधारात्मक कार्रवाई के अंतर्गत हैं।
यह पूंजी सरकार की इंद्रधनुष योजना के अंतगर्त आती है। इसके तहत मार्च 2019 तक बैंकों में 70,000 करोड़ रपए की पूंजी डालने का वादा किया गया है। बैंक ऑफ इंडिया, आईडीबीआई बैंक और यूको बैंक सहित जिन बैंकों को पूंजी मिलेगी, वे तरजीही शेयर जारी करके पूंजी प्राप्त करेंगे। शेयरधारकों से मंजूरी सहित आवश्यक नियामकीय अनुमोदन प्राप्त होने के बाद अगले कुछ हफ्तों में वास्तविक रूप से पूंजी डालना शुरू किया जाएगा।यूको बैंक ने कहा कि सरकार द्वारा 1,375 करोड़ रपए पूंजी डालने के एवज में तरजीही आधार पर शेयर जारी करने के प्रस्ताव के लिए निदेशक मंडल की मंजूरी मिल गई है।
इसके अतिरिक्त, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि निदेशक मंडल की पूंजी जुटाने वाली समिति ने 323 करोड़ रपए जुटाने के लिए 83.15 रपये प्रति इकाई मूल्य पर 3.88 करोड़ शेयर आवंटिंत करने की मंजूरी दी है। इसके साथ ही सरकार ने बैंक ऑफ इंडिया में 2,257 करोड़ रपए, आईडीबीआई बैंक में 2,729 करोड़ रपए, बैंक ऑफ महाराष्ट्र में 650 करोड़ रपए और देना बैंक में 243 करोड़ रपए डालने का फैसला किया है।

इसे भी पढ़िए :  पूर्व सीएमडी की गिरफ्तारी से 18 प्रतिशत गिरे यूको बैंक के शेयर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − seven =