शर्मनाक: बेटे ने बीमार मां को छत से फेंककर मार डाला, CCTV फुटेज में हुआ खुलासा

loading...

नई दिल्लीः गुजरात के राजकोट से इंसानियत को शर्मसार कर देने वारदात सामने आई है. यहां एक बेटे ने अपनी बुजुर्ग और बीमार मां को छत से फेंककर मार डाला. मां को ब्रेन हैमरेज हो गया था और देखभाल से बचने के लिए इस बेटे ने मां को छत से फेंककर मार डाला. यह वारदात दो महीने पहले बताई जा रही है. लेकिन CCTV Footage देखने के बाद इस वारदात के बारे में अब पता चला है. आरोपी बेटा Assistant Professor है. CCTV में बेटा अपनी मां को छत पर ले जाता दिख रहा है.पहले हर किसी को ये लगा कि मां छत से गिर गईं और उनकी मौत हो गई.लेकिन मां की मौत के कुछ दिन बाद पुलिस को एक गुमनाम चिट्ठी मिली और फिर जब सीसीटीवी देखा गया तो सबकुछ साफ हो गया.

इसे भी पढ़िए :  मुझे रेस 3 में काम करने से बहुत लोगों ने मना किया था: अनिल कपूर

मिली जानकारी के अनुसार, दो महीने पहले राजकोट के गांधीग्राम के दर्शन Avenue में रहने वाली रिटायर्ड टीचर जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी (64) की Building की छत से गिरने के बाद मौत हो गई थी. इस मामले को पुलिस ने आत्महत्या मानकर केस बंद कर दिया था. लेकिन करीब दो महीने बाद पुलिस को एक गुमनाम चिट्ठी मिली जिसके आधार पर पुलिस ने फिर से इस case की जांच शुरू की.

इसे भी पढ़िए :  गुर्दा प्रत्यारोपण के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि प्राप्त कर शहर में आए डा. आकाश बंसल का हुआ भव्य स्वागत

जब पुलिस ने Society में लगे सीसीटीवी के फुटेज खंगाले तो हैरान रह गई. सीसीटीवी इस महिला का बेटा संदीप अपनी मां को लिफ्ट से छत की ओर ले जाते दिखाई दे रहा था. Police Check में पहले तो आरोपी बेटे ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन जब सख्ती से पूछताछ हुई तो उसने सच उगला डाला.

राजकोट के DCP करनराज वाघेला ने बताया कि Sandeep पहले गुमराह करता रहा, पहले उसने बताया कि वह मां को पूजा के लिए लेकर गया था. इसके बाद जब पुलिस ने पूछा कि मां ने ढाई फुट ऊंची रेलिंग कैसे पार की, तो वह चुप हो गया. जब पुलिस ने सख्ती से पूछा तो उसने मां को छत से फेंकने की बात क़ुबूल कर ली. आरोपी ने बताया कि वह मां की तीमारदारी से परेशान हो गया था.

इसे भी पढ़िए :  बोलीं जाह्नवी कपूर -उम्मीद है ‘धड़क' लाखों लोगों के दिलों को छुएगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 + 19 =