अफगानिस्तान और भारत के बीच ऐतिहासिक टेस्ट 14 जून से बेंगलुरु में

loading...

नई दिल्ली ।  अफगानिस्तान इसी वर्ष 14 जून से बेंगलुरु में भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेलेगा। इस मैच के साथ ही अफगानिस्तान के क्रिकेट के नए युग की शुरुआत होगी।

आईसीसी ने पिछले वर्ष जून में अफगानिस्तान और आयरलैंड को टेस्ट दर्जा प्रदान किया था। बीसीसीआई ने पिछले वर्ष दिसंबर में यह घोषित किया था कि वह अफगानिस्तान के पहले टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। बीसीसीआई और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रतिनिधियों के बीच हुई बैठक के बाद बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी ने इस टेस्ट के आयोजन की घोषणा की। उन्होंने जून में भारत के अधिकांश क्षेत्र में वर्षा होती है, इसलिए इस मैच का आयोजन बेंगलुरु में करने का फैसला किया।

इसे भी पढ़िए :  एशियाई खेल 2018 : दूसरे दिन की शानदार शुरुआत, शूटर दीपक कुमार ने जीता सिल्वर मेडल

अफगानिस्तान के राशिद खान और मोहम्मद नबी को पिछले वर्ष आईपीएल में खेलने का मौका मिला था। इस बार 27-28 जनवरी को होने वाली नीलामी में 13 अफगानी खिलाड़ी शामिल होंगे। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) और भारतीय क्रि केट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अधिकारियों की मंगलवार को यहां हुई बैठक में इसका फैसला लिया गया। बैठक के अनुसार अफगानिस्तान अपना पहला टेस्ट मैच भारत के खिलाफ बेंगलुरू में 14 से 18 जून तक खेलेगा।

इसे भी पढ़िए :  एशियाई खेल 2018 : यातायात समस्या का कारण, शाहरूख और सेल्फी की दीवानगी

गौरतलब है कि बीसीसीआइ ने पिछले महीने दिसम्बर में घोषणा की थी कि वह अफगानिस्तान के पदार्पण टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। अफगानिस्तान को पिछले साल ही जूून में अंतरराष्ट्रीय क्रि केट परिषद (आईसीसी) ने आयरलैंड के साथ टेस्ट दर्जा दिया था।

इसे भी पढ़िए :  इस क्रिकेटर की बेटी ने 'ऐ वतन...' गाकर जीता आलिया भट्ट का दिल MUST WATCH!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen + 17 =