दांतों में दबाओ पेंसिल सिर दर्द गायब

47
loading...

लंदन। आज की दौड़ती-भागती जिंदगी में सिर दर्द की समस्या बड़े ही नहीं बच्चों के लिए भी ‘‘सिरदर्द’ बन गई है लेकिन एक ताजा शोध से नई उम्मीद जगी है कि इससे निजात पाने के लिए हमें दवा की तरफ नहीं बल्कि एक पेंसिल की तरफ हाथ बढ़ाना होगा।

1. तनाव,ंिचंता, अवसाद, सोने के गलत तरीके से होता हैं सिर दर्द : डॉ. जॉन लियोनार्ड ने एक समाचार पत्र को बताया कि तनाव,ंिचंता, अवसाद, सोने के गलत तरीके आदि से होने वाले सिर दर्द का उपचार पेंसिल की मदद से संभव है।

2. दर्द में कनपटी पर इशारा : अक्सर सिर दर्द से पीड़ित लोग दर्द की जगह बताने के लिए अपनी कनपटी की ओर इशारा करते हैं। दरअसल यह दर्द सिर के पिछले हिस्से ‘‘टेम्पोरालिस’ और कनपटी की मांसपेशी के खिचाव के कारण होता है। यह खिचाव जबड़े की मांसपेशी से भी जुड़ा होता है और यह ‘‘टेम्पोरोमैडिब्यूलर’ ज्वाइंट के ठीक से काम करने के कारण होता है। यह ज्वाइंट नींद में दांत पीसने या जबड़े भींचने के कारण ठीक से काम नहीं कर पाता है।

इसे भी पढ़िए :  सिद्धार्थ ने बताया अपने तरोताजा चेहरे का राज ....

3. सिर दर्द का कारण : हमारे शरीर की बनावट ऐसी है कि दांतों के बीच एक पेंसिल को कुछ देर रखने से जबड़े की मांसपेशी को राहत मिलती है। जबड़े की बनावट बहुत कठिन होती है और इसके ज्वांइट बहुत ही उलझे होते हैं, जिसके कारण इसमें होने वाली कोई भी परेशानी सिर दर्द का कारण बन जाती है।

इसे भी पढ़िए :  पति आदित्य की इस आदत से परेशान रानी मुखर्जी, नहीं चाहतीं आदिरा भी करे ये काम

4. पेंसिल से दर्द में पूरा आराम मिल सकता है : सिर दर्द पेंसिल को दांतों के बीच रखने से सिर दर्द में पूरा आराम मिल सकता है। इस क्रिया में पेंसिल को दांतों के बीच रखना होता है। इसे भींचने अथवा चबाने से सकारात्मक नतीजा नहीं मिल सकता है।

इसे भी पढ़िए :  रणवीर सिंह फंसे आलिया और सारा के बीच

5. मासपेशियों में तनाव पैदा होता है : डॉ. लियोनार्ड के अनुसार चिंता अथवा तनाव में होने पर प्राय: हम जबड़े भींचते हैं जिससे इससे संबंधित मांसपेशियों में तनाव पैदा होता है। इस प्रक्रिया से हमारी कनपटी के पास दबाव पर पड़ता है जो सिर दर्द का कारण बनता है। कुछ देर तक दांतों के बीच पेंसिल रखने से इस प्रकिया में विराम लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × one =