हरिद्वार-ऋषिकेश में पॉलिथिन, प्लास्टिक के सामानों पर बैन, उल्‍लंघन करने पर 5 हजार का जुर्माना

loading...

नई दिल्‍ली : राष्‍ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने शुक्रवार को अपने एक अहम आदेश के तहत हरिद्वार और ऋषिकेश में Plastic की थैलियों, प्लेटों तथा कटलरी जैसे Plastic से बने सामान के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया. NGT ने हरिद्वार और ऋषिकेश में Plastic के सामानों की बिक्री, निर्माण और भंडारण पर भी प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए हैं. इसके साथ ही NGT ने साफ किया है कि आदेश का उल्लंघन करने वालों पर 5,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा.

इससे पहले एनजीटी ने बीते बुधवार को Amarnath Cave में किसी भी श्रद्धालु या किसी भी व्यक्ति को ‘Amarnath जी महा शिवलिंग’ के समक्ष खड़े होने के दौरान शांति बनाए रखने का आदेश दिया था.

NGT अध्यक्ष न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि पवित्र गुफा की तरफ जाने वाली मुख्य सीढ़ियों सहित किसी भी अन्य हिस्से में प्रतिबंध लागू नहीं है. अधिकरण ने यह भी स्पष्ट किया कि पवित्र गुफा की तरफ जाने वाली करीब 30 सीढ़ियों पर यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि कोई श्रद्धालु कोई सामान लेकर नहीं जाए, क्योंकि यह परम्परा बोर्ड की ही है. हालांकि यह साफ किया गया कि सीढ़ियों के नीचे कोई प्रतिबंध नहीं है.

इसे भी पढ़िए :  नकदी संकट से शादी वाले घरों का बुरा हाल, चेक से निभायी जा रहीं रस्में

पीठ ने कहा, ‘गुफा में दर्शकों…श्रद्धालुओं के लिए एक ही कतार होगी. ये निर्देश सभी संबंधित लोगों को मानना होगा’. अधिकरण की तरफ से कहा गया कि ‘यह निर्देश इन बातों को ध्यान में रखते हुए दिए गए हैं कि पवित्र गुफा की पवित्रता और मौलिकता बरकरार रहे, साथ ही यह सुनिश्चित किया जाए कि शोर, गर्मी, कंपन आदि का विपरीत असर अमरनाथ जी महा शिवलिंग पर नहीं पड़े ताकि बाद के दिनों में आने वाले श्रद्धालु भी अमरनाथ जी महा शिवलिंग के दर्शन कर सकें’.

इसे भी पढ़िए :  अब फेक न्यूज वालों की खैर नहीं! Facebook ने बूम से मिलाया हाथ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + thirteen =