शाबाश : गंगा कुमारी बनीं राजस्थान की पहली किन्नर सिपाही

loading...

नई दिल्ली 14 नवंबर। दो साल की लंबी कानूनी लड़ाई के बाद गंगा कुमारी राजस्थान की पहली किन्नर सिपाही बन गई हैं। वह कानूनी पचड़ों में नहीं फंसतीं तो शायद आज देश की पहली किन्नर सिपाही होतीं।
राजस्घ्थान हाई कोर्ट में कानूनी लड़ाई जीतने के बाद 24 साल की गंगा कुमारी आज की सिपाही बन गईं। राजस्थान हाईकोर्ट ने मंगलवार को राज्य के पुलिस को विभाग को निर्देश दिया कि गंगा कुमारी को तत्काल सिपाही पद का नियुक्त पत्र दिया जाए। गंगा कुमारी ने 2015 में सिपाही भर्ती की परीक्षा पास की थी, लेकिन लिंग की स्पष्ठता के कमी कारण पुलिस ने विभाग ने नौकरी देने से मना कर दिया था। पुलिस के फैसले के विरोध में गंगा कुमारी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।
Report के अनुसार, गंगा जालोर जिले के रानीवाड़ा की रहने वाली है। 2013 में गगां ने पुलिस भी भर्ती क्लीयर की थी लेकिन जब मेडिकल जांच हुई तो उसे नौकरी के लिए उपयुक्त नहीं माना गया। डॉक्टरों ने गंगा को न तो मेल माना और न ही फिमेल। इसी आधार पर उसे नौकरी देने से मना कर दिया गया था। इसी खिलाफ गंगा न्यायालय गई जहां उन्हें लंबे संघर्ष के बाद जीत मिली।

इसे भी पढ़िए :  करण जौहर के बाद अब रेडियो पर डेब्यू करेंगी करीना कपूर, फैंस की तो हो गई बल्ले-बल्ले!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × three =