धूम्रपान नहीं करने वाले कर्मचारियों को ज्यादा छुट्टी

loading...

टोक्यो। धूम्रपान नहीं करने वाले कर्मचारियों को जापान की एक कंपनी छह दिन की अतिरिक्त छुट्टी देगी। टोक्यो की ऑनलाइन कॉमर्स कन्सल्टिंग एंड मार्केटिंग कंपनी ‘‘पिआला’ ने सितम्बर में इस कार्यक्र म की शुरूआत की थी। एक कर्मचारी ने धूम्रपान करने वाले कर्मचारियों के बार-बार उठकर जाने से समय के नुकसान की शिकायत की थी।

प्रवक्ता हिरोताका मत्सुशिमा ने बताया, चूंकि हमारा दफ्तर 29वीं मंजिल पर है..भूतल पर धूम्रपान कक्ष में एक बार जाने और वहां से आने में कम से कम 10 मिनट का नुकसान होता है।उन्होंने कहा, साथ ही यह भी सच है कि धूम्रपान कक्ष में अमूमन काम के बारे में ही बातें होती हैं। वे एक-दूसरे से विचारों का आदान-प्रदान करते हैं और मशविरा करते हैं।

इसे भी पढ़िए :  पैसे आने पर मिलिंद सोमन की गर्लफ्रेंड ने की बेवफाई? ये है सच्चाई

मत्सुशिमा ने कहा, इसलिए, हमने धूम्रपान करने वालों को सुधारने की बजाए (धूम्रपान नहीं करने वालों को) इनाम देने का फैसला किया। एक सितम्बर को इस कार्यक्र म की शुरूआत के बाद से धूम्रपान करने वाले 42 कर्मचारियों में चार ने अपनी आदतें बदल ली। कंपनी में कुल 120 कर्मचारी काम करते हैं।

इसे भी पढ़िए :  बाजरे से बने इस फूड्स के इस्तेमाल से बढ़ सकता है आपका वज़न।

धूम्रपान से आंत में सूजन से संबंधित बीमारी उत्पन्न हो सकती है
लोगों के स्वास्य पर धूम्रपान के कई दुष्प्रभावों से तो लगभग सभी अवगत हैं लेकिन वैज्ञानिकों ने आगाह किया है कि सिगरेट पीने से आंतों को क्षति पहुंच सकती है और ‘‘कोलाइटिस’ का खतरा बढ़ने की आशंका है। अनुसंधानकर्ताओं ने सिगरेट के धुएं के सम्पर्क में आने वाले चूहे पर इस प्रभाव के लिए जिम्मेदार खास रक्त कोशिका एवं प्रोटीन को चिन्हित किया है।

‘‘फ्रंटियर्स इन इम्युनोलॉजी जर्नल’ में प्रकाशित अध्ययन से वैज्ञानिकों को आंत के सूजन से जुड़ी बीमारियों के उपचार में मदद मिल सकती है और इससे ‘‘कोलाइटिस’ के बढ़ते खतरे को लेकर लोगों को जागरुक किया जा सकता है। पूर्व के अध्ययन में यह कहा गया था कि धूम्रपान के कारण फेंफड़ों में सूजन से आंत पर प्रभाव पड़ सकता है।

इसे भी पढ़िए :  मम्‍मी-पापा के साथ रहने के लिए अभिषेक बच्‍चन को किया ट्रोल, दिया मजेदार जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + 17 =