हाईकोर्ट की सख्ती पर अब मसूरी में टूटेगा ‘सचिन तेंदुलकर का आशियाना’, जान‌िए क्या है पूरा मामला

148

नैनीताल :क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के करीबी दोस्त की ओर से मसूरी के लंढौरा कैंट स्थित डहलिया बैंक हाउस में कराया गया अवैध निर्माण टूटेगा। नैनीताल हाईकोर्ट ने मंगलवार को डहलिया बैंक हाउस में निर्माण के ध्वस्तीकरण के कैंट बोर्ड के आदेश के खिलाफ कारोबारी संजय नारंग की याचिका को खारिज कर दिया। साथ ही इस भवन में बने पूल व तालाब के मामले में कैंट बोर्ड से याची को सुनवाई का मौका देने के निर्देश दिए हैं।

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति केएम जोसफ व न्यायमूर्ति वीके बिष्ट की संयुक्त खंड पीठ ने इस मामले की सुनवाई की। मसूरी के कारोबारी और सचिन तेंदुलकर के दोस्त संजय नारंग ने हाइकोर्ट में डहलिया बैंक हाउस मामले में विशेष अपील दायर की थी। याचिका में बताया गया था कि कैंट बोर्ड मसूरी ने उनके डहलिया बैंक हाउस परिसर में मरम्मत व अन्य निर्माण कार्य के ध्वस्तीकरण का आदेश दिया है। याचिका में कहा गया था कि पुनर्निर्माण कार्य कैंट बोर्ड से मिली अनुमति के बाद किया गया था।

इसे भी पढ़िए :  आज से और सस्ता हुआ रेस्टोरेंट का खाना, रोजमर्रा की इन चीजों पर होगा फायदा

इसके बाद कैंट प्रशासन की ओर से इसके ध्वस्तीकरण का आदेश नियम के खिलाफ है। ध्वस्तीकरण के आदेश के पहले याची को नियमानुसार कोई नोटिस भी नहीं दिया गया है। हाईकोर्ट की एकलपीठ ने इस याचिका को खारिज कर दिया था। इसके खिलाफ नारंग ने स्पेशल अपील दायर की थी। मंगलवार को संयुक्त खंडपीठ ने भी सुनवाई के बाद याचिका को खारिज कर दिया है। संयुक्त खंडपीठ ने कैंट प्रशासन के अवैध निर्माण तोड़ने के आदेश को सही ठहराया है जबकि यहां बनाए गए पूल व तालाब के मामले में कैंट प्रशासन को पुन: सुनवाई करने के आदेश दिए हैं।

इसे भी पढ़िए :  अंबानी परिवार की संपत्ति 1685 अरब रुपये बढ़ी, बने एशिया में नंबर वन

मसूरी निवासी संजय नारंग ने वर्ष 2008 में आरएल दुग्गल से यह संपत्ति खरीदी थी। यह संपत्ति कैंट बोर्ड के अधीन आती है। हालांकि इसके लिए केंद्र सरकार से अनुमति नहीं ली गई। इस कारण जमीन का दाखिल-खारिज नहीं हो सका। नारंग ने लंढौरा कैंट बोर्ड से वर्ष 2009 में भवन में मरम्मत और अन्य सुधार की मंजूरी मांगी। बाद में मामले में सिविल वाद दायर हुआ, जिसमें नारंग हार गए। मामले में कैंट बोर्ड ने 2014 में संबंधित भूमि पर कराए गए नवनिर्माण को ध्वस्त कराने का आदेश दे दिया।

इसे भी पढ़िए :  ईरानी महिला 370 किलो की वज़नी बाइक से घूम रही है 45 देश, उनके और इरादें जानकर कर अच्छे अच्छे रह गये हैरान

srclh

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 4 =